एसीबी की टीम ने सहकारिता विभाग के सहायक निबंधक मिताली शर्मा को 10,000 रूपये घूस लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा

कोडरमा: हजारीबाग एसीबी की टीम ने कोडरमा जिला में तैनात सहकारिता विभाग के सहायक निबंधक मिताली शर्मा को दस हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है ।गिरफ्तारी के बाद एसीबी की टीम महिला अधिकारी को अपने साथ हजारीबाग ले गए। इस संबंध में एसीबी अधिकारी ने बताया कि पिछले दिनों मिताली शर्मा ने कोडरमा में एक संस्था ,कोडरमा व्यापार सहयोग समिति का औचक निरीक्षण किया था और कुछ गड़बड़ियां पाई थी। इसको लेकर मिताली शर्मा ने समिति से स्पष्टीकरण मांगा था। साथ ही स्पष्टीकरण से बचने के लिए बीस हजार बतौर घूस की राशि डिमांड की ,जिसके बाद समिति के सदस्य रामेश्वर प्रसाद यादव ने इसकी शिकायत एसीबी डीजी रांची को दी। डी जी के आदेश पर एसीबी हजारीबाग टीम ने मामले का सत्यापन किया ,जिसमें पाया गया कि मिताली शर्मा समिति से बतौर घूस बीस हजार रुपये मांग रही है ।सत्यापन के बाद एसीबी की टीम ने मामला दर्ज किया और मिताली शर्मा के विरुद्ध जाल बिछा दिया। निगरानी की टीम ने इसके लिए सात जुलाई का दिन तय किया और मिताली शर्मा को दस हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है ।फिलहाल एसीबी की इस कार्रवाई से अन्य सरकारी विभागों में भी दहशत का माहौल है।मिताली शर्मा की कुछ माह पहले ही पहली पोस्टिंग कोडरमा में हूई थी ।