36- बोकारो विधानसभा क्षेत्र के पन्ना Verification एवं Home to Home Roll प्रविधि (Technique) से संबंधित बी० एल०ओ पर्यवक्षक के साथ बैठक सम्पन्न

उपलब्ध कराए गए Sticker को प्रत्येक घर पर चिपकाएंगे- एसडीओ, चास…

भारत निर्वाचन आयोग के संकल्प ” कोई मतदाता छूटे न ” को अक्षरशः पूरा किया जा सके

मतदाता सूची का शत् प्रतिशत भौतिक सत्यापन सुनिश्चित किया जाए

बोकारो :- आज दिनांक 06 जुलाई, 2023 को निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी, 36 बोकारो -सह- अनुमण्डल पदाधिकारी, चास श्री दिलीप प्रताप सिंह शेखावत की अध्यक्षता में दिनांक 01.01.2024 को अर्हता तिथि मानते हुए पन्ना Verification एवं Home to Home Roll प्रविधि (Technique) के कार्यों का ससमय सम्पादन करने के उद्देश्य से सभी बी०एल०ओ० पर्यवेक्षक (BLO Supervisor), 36 बोकारो विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र एवं सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी 36-बोकारो विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के साथ प्रखंड कार्यालय चास के सभागार में बैठक सम्पन्न।

उपलब्ध कराए गए Sticker को प्रत्येक घर पर चिपकाएंगे-

अनुमण्डल पदाधिकारी, चास श्री दिलीप प्रताप सिंह शेखावत द्वारा पन्ना Verification एवं Home to Home Roll प्रविधि ( Technique) से संबंधित कार्य को विस्तार पूर्वक बताया कि दिनांक 01.01.2024 को अहर्ता तिथि मानते हुए मतदाता सूची विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के संदर्भ में पूर्व पुनरीक्षण गतिविधियों के तहत् मतदाता सूची का शत्-प्रतिशत भौतिक सत्यापन 21.07.2023 से 21.08.2023 तक किया जाना है। इस क्रम में मतदाता सूची को समावेशी एवं त्रुटिरहित बनाना निर्वाचन तंत्र का लक्ष्य है। साथ ही उन्होंने बी० एल०ओ० द्वारा शत्-प्रतिशत् घर-घर जाकर सभी मतदाताओं का सत्यापन किया जाना है। सत्यापन के दौरान बी०एल०ओ० विभागीय स्तर से उपलब्ध कराए गए Sticker को प्रत्येक घर पर चिपकाएंगे तथा उनके द्वारा भ्रमण के उपरांत भ्रमण की दो तिथियाँ अंकित की जाएगी। साथ ही उनके द्वारा बी०एल०ओ० रजिस्टर एवं Correction Slip के माध्यम से घर-घर एवं मतदाताओं का सत्यापन का कार्य किया जाएगा। इसके साथ ही
जिला निर्वाचन पदाधिकारी, उप निर्वाचन पदाधिकारी, निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी, सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी एवं बी०एल०ओ० सुपरवाईजर द्वारा घर-घर सत्यापन के कार्य का पर्यवेक्षण किया जाएगा।

वहीं उक्त बैठक में एक प्रविधि की जानकारी दी गई है, जिसे पन्ना Verification एवं Home 2 Roll प्रविधि ( Technique) का नाम दिया गया है। पन्ना Verification एवं Home 2 Roll Verification का उपयोग शत्-प्रतिशत भौतिक सत्यापन की जाँच के क्रम में किया जाना है।

पन्ना Verification :-

सामान्यतया किसी मतदान केन्द्र के मतदाता सूची के एक पन्ने पर लगभग 30 मतदाताओं के नाम एवं विवरण मुद्रित होते है। शत्-प्रतिशत भौतिक सत्यापन की जाँच के क्रम में पहली प्रविधि यथा पन्ना Verification के अन्तर्गत संबंधित मतदान केन्द्र की मतदाता सूची के किसी एक पन्ने का यादृच्छिक (Randomly) रूप से चुनाव करने के पश्चात् उस पन्ने में अंकित सभी मतदाताओं का सत्यापन घर-घर जाकर किया जाना है। यदि उस पन्ने में अंकित सभी मतदाता भौतिक रूप से पाये जाते हैं या उनके उपलब्ध होने की जानकारी मिलती है, तो वैसी स्थिति में उस मतदान केन्द्र की मतदाता सूची को कुछ अंशों तक समावेशी माना जा सकता है। यदि पन्ने में अंकित कोई मतदाता के भौतिक रूप से उपलब्ध होने की जानकारी प्राप्त नहीं होती है अथवा अनुपस्थित, स्थानांतरित या मृत मतदाता के संबंध में जानकारी प्राप्त होती है तो नियमानुसार नाम विलोपन की कार्रवाई पूर्णरूपेण संतुष्ट होने के पश्चात् किया जाना है।

Home to Home Roll Verification :-

शत्-प्रतिशत भौतिक सत्यापन की जाँच के क्रम में दूसरी प्रविधि Home 2 Roll के अन्तर्गत संबंधित मतदान केन्द्र क्षेत्र (Polling Station Area) के यादृच्छिक (Randomly) रूप से चयनित किसी मुहल्ला या टोले के लगातार 6 घरों में निवास करने वाले सभी योग्य नागरिकों के मतदाता सूची में सम्मिलित होने की जांच घर-घर जाकर किया जाना है। यदि सभी योग्य नागरिकों का नाम मतदाता सूची में उपलब्ध हो तो वैसी स्थिति में उस मतदान केन्द्र की मतदाता सूची को कुछ अंशों तक समावेशी माना जा सकता है। यदि इस दौरान 18 वर्ष की आयु पूरी कर चुके युवक / युवती अथवा नवविवाहित महिलाओं का नाम मतदाता सूची में नहीं पाया जाता है तो वैसी स्थिति में फॉर्म 6 भरकर मतदाता सूची को समावेशी बनाया जाना है।

मतदाता सूची का शत् प्रतिशत भौतिक सत्यापन सुनिश्चित किया जाए-

निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी 36 बोकारो -सह- अनुमण्डल पदाधिकारी, चास ने बताया कि आपके द्वारा सत्यापन के पर्यवेक्षण संबंधी कार्य का समुचित रिकार्ड संधारित करते हुए उसकी एक प्रति सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी / निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी के कार्यालय को उपलब्ध कराया जाय। चुंकि उक्त संधारित रिकार्ड से ही मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, मतदाता सूची प्रेक्षक -सह- प्रमण्डलीय आयुक्त एवं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के पदाधिकारी के द्वारा आवश्तानुसार सत्यापन / पर्यवेक्षक (Superchecking) की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने आगे बी0एल0ओ0 सुपरवाईजर एवं सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी को उक्त प्रविधि की जानकारी देते हुए मतदाता सूची का शत् प्रतिशत भौतिक सत्यापन सुनिश्चित किया जाए ताकि Special Summary Revision 2024 के फलस्वरूप एक स्वस्थ त्रुटिरहित एवं समावेशी मतदाता सूची का निर्माण किया जा सके। साथ ही भारत निर्वाचन आयोग के संकल्प “कोई मतदाता छूटे न” को अक्षरशः पूरा किया जा सके। उन्होंने अंत में पुनः अनुमण्डल पदाधिकारी, चास द्वारा बैठक में उपस्थित सभी बी०एल०ओ० सुपरवाईजर को विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 2024 के Pre revision activities एवं revision activities के तहत सम्पूर्ण कार्य की जानकारी तिथीवार दी गयी ।

नाम विलोपित करने हेतु ECI द्वारा निर्गत SOP का पालन करने का सख्त निर्देश दिया गया।

पूर्व के लोकसभा एवं विधानसभा में चुनाव प्रतिशत कम होने की जानकारी देते हुए वर्तमान में होने वाले चुनाव में ‘चुनाव प्रतिशत में बढोतरी करने हेतु सभी मतदान केन्द्रों में जागरूकता फैलाने हेतु ग्राम सभा का आयोजन करने का निदेश दिया गया है, साथ स्वीप कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा।

सभी सुपरवाईजर को gender ration एवं EP Ration की जानकारी दी गयी साथ ही सभी को वर्तमान में अनुमानित gender ration एवं EP Ration व्हाट्सऐप के माध्यम से साझा किया जाएगा ताकि युवा मतदाता एवं भावी मतदाता का लक्ष्य प्राप्त किया जा सके।

अन्त में सभी बी०एल०ओ० एवं बी०एल०ओ० सुपरवाईजर के साथ प्रश्नोतरी की गयी ताकि किसी कार्य में कोई समस्या उत्पन्न न हो ।

बैठक के दौरान प्रखंड विकास पदाधिकारी चास श्री मिथिलेश चौधरी, प्रखण्ड पंचायती राज पदाधिकारी, चास, कार्यपालक पदाधिकारी श्रीमती छविबाला बारला सहित कार्यालय के पंकज, प्रेम, सचिन, सेफाली निर्वाचन कम्प्युटर ऑपरेटर उपस्थित थे।